Home State News कैट ने सीलिंग स्थगित किये जाने की मांग करते हुए नगर निगम...

कैट ने सीलिंग स्थगित किये जाने की मांग करते हुए नगर निगम को ठहराया सीलिंग के लिए जिम्मेदार

41
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
संवाददाता.
नई दिल्ली. 08 फरवरी. कन्फेडरेशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स ने आज कहा कि दिल्ली नगर निगम, दिल्ली सरकार, डीडीए एवं अन्य निकायों के अधिकारियों की लापरवाही के कारण ही दिल्ली में सीलिंग हो रही है. और व्यापारियों को बलि का बकरा बनाते हुए सीलिंग का निशाना बनाया जा रहा है.
praveen khandelwal
कैट पदाधिकारियों ने कहा कि संबंधित अधिकारियों के खिलाफ आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी है, यह दुर्भाग्यपूर्ण है.
कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि एक ओर नगर निगम ने निगम कानून 1957 के मूल प्रावधानों को लेकर सर्वोच्च न्यायलय को अँधेरे में रखा, वहीं दूसरी ओर मास्टर प्लान 2021 में नगर निगम को जो जिम्मेदारियां दी गर्इं थीं, उनको निभाने में निगम बुरी तरह असफल रहा है. यहाँ तक कि उस दिशा में 10 वर्ष बीत जाने के बाद भी एक कदम तक नहीं उठाया गया है. यह भी पढ़ें : सांसद उदित राज ने दिए महिलाओं को प्रशिक्षण प्रमाणपत्र  खंडेलवाल ने कहा कि यदि अधिकारियों ने अपनी जिम्मेदारियां समय पर गंभीरता के साथ पूरी की होतीं तो दिल्ली में बड़ी तादाद में कमर्शियल स्थान उपलब्ध हो जाते और आज सीलिंग की नौबत नहीं आती. इस लापरवाही के लिए नगर निगम और अन्य निकायों को वर्तमान स्थिति के लिए दोषी ठहराना चाहिए जबकि इसके लिए व्यापारियों को निशाना बनाया जा रहा है.
उन्होंने संबंधित अधिकारियों को चिन्हित करते हुए उनकी लापरवाही और जिम्मेदारी पूरी न करने के कारण दंडित किये जाने की मांग करते हुए कहा कि व्यापारियों को सीलिंग से बचाने के लिए सरकार को एक अध्यादेश या संसद में बिल लाकर कम से कम छह महीने के लिए स्थगित करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here