Home National News सभी योजनाओं की निगरानी कर रहे हैं ताकि योजनाओं का लाभ हर...

सभी योजनाओं की निगरानी कर रहे हैं ताकि योजनाओं का लाभ हर जरूरतमंद तक पारदर्शिता के साथ पहुँचे- नकवी

96
0
SHARE

नई दिल्ली. 10 जुलाई. केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य राज्यमंत्री एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि केंद्र सरकार में पारदर्शिता ही गरीबों-जरूरतमंदों की प्रगति का पैमाना है.
नई दिल्ली में मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन के निरीक्षण अधिकारियों की कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए नकवी ने कहा कि वह स्वयं भी सभी योजनाओं की निगरानी कर रहे हैं ताकि इन योजनाओं का लाभ हर जरूरतमंद तक बिना किसी परेशानी के एवं पूरी पारदर्शिता के साथ पहुँच सके.
उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय पूरी तरह से आॅनलाइन-डिजिटल हो गया है. हर योजना डिजिटल कर दी गई है, जिससे बिचौलियों के लिए कोई जगह नहीं रह गई है और हर योजना का लाभ सीधे जरूरतमंदों तक पहुँच रहा है.
नकवी ने कहा कि नई योजनाओं की घोषणा से ज्यादा महत्वपूर्ण है, योजनाओं का जमीनी स्तर पर पूरी पारदर्शिता एवं ईमानदारी से क्रियान्वयन. उन्होंने अधिकारियों को भी निर्देश दिये हैं, कि वो आम लोगों से मिलकर योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत जानें.
नकवी ने कहा कि इसी मकसद से उन्होंने प्रोग्रेस पंचायत शुरू की, ताकि लोगों के बीच जा कर उनकी समस्याओं को सुना जा सके और उनका समाधान किया जा सके.
इस अवसर पर नकवी ने कहा कि मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन के लगभग 280 निरीक्षण अधिकारियों का इस्तेमाल फाउंडेशन की शैक्षिक योजनाओं के अलावा अल्पसंख्यक मंत्रालय की अन्य विभिन्न योजनाओं के कार्यान्वयन की देखरेख करने के लिए भी किया जायेगा। ये एक तरह से योजनाओं के ‘निगहबान’ की तरह काम करेंगे. इन निरीक्षण अधिकारियों में अधिकांश सेवा निवृत्त उच्च प्रशासनिक अधिकारी एवं शिक्षा के क्षेत्र में काम करने वाले अनुभवी लोग शामिल हैं. जिनके अनुभव का लाभ मंत्रालय की योजनाओं के कार्यान्वयन में मिलेगा.
इस कार्यशाला में निरीक्षण अधिकारियों को मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन और अल्पसंख्यक मंत्रालय की विभिन्न योजनाओं की पूरी जानकारी दी गई. मौलाना आजाद एजुकेशन फाउंडेशन अपनी योजनाओं के लिए गैर-सरकारी संस्थाओं को आर्थिक अनुदान इन निरीक्षण अधिकारियों द्वारा संस्थानों एवं उनके काम की रिपोर्ट के आधार पर जारी करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here