Home State News वामपंथी हिंसा के खिलाफ भाजपा दिल्ली प्रदेश का रोष मार्च

वामपंथी हिंसा के खिलाफ भाजपा दिल्ली प्रदेश का रोष मार्च

95
0
SHARE
वामपंथी हिंसा केरल के विकास में सबसे बड़ी बाधा- डॉ. महेश शर्मा

संवाददाता.
नई दिल्ली. 06 अक्तूबर. केरल हिंसा के पीड़ितों के समर्थन में भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश ने आज रोष मार्च निकालकर मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी का पुतला दहन किया. जन रक्षा यात्रा के अंतर्गत आज नवीन शाहदरा जिला के हजारों कार्यकर्ता प्रदेश भाजपा कार्यालय 14, पंडित पंत मार्ग पर एकत्रित हुए और प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी के नेतृत्व में पैदल मार्च किया.  
केरल हिंसा के खिलाफ इस जनरक्षा यात्रा में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल, प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू, केन्द्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कार्यकर्ताओं के साथ पैदल मार्च किया और कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. निगम पार्षद रेखा त्यागी के नेतृत्व में सफाई अभियान चलाया  इस अवसर पर उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने कहा कि केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता विचारधारा की लड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन हारा हुआ वामपंथ उनकी चुन-चुनकर राजनीतिक हत्याएं करवा रहा है.
प्रदेशाध्यक्ष मनोज तिवारी ने कार्यकर्त्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या करने वाले वामपंथियों के षड्यंत्र और वामपंथी हिंसा को देश और दुनिया के सामने बेनकाब करने के लिए 16 अक्टूबर तक जब-जब केरल की धरती पर आंदोलन होगा, दिल्ली के कार्यकर्त्ता भी दिल्ली की सड़कों पर ऐसे रोष मार्च निकालकर क्रूर वामपंथी विचारधारा को बेनकाब करेंगे.
प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि वामपंथी विचारधारा एक विनाशकारी षड्यंत्र है, इस विचारधारा को जहां भी मजबूती मिली है वहां लोकतंत्र की हत्याएं हुई हैं और केरल में वामपंथी हिंसा इसका एक बड़ा सबूत है.
केन्द्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कहा कि केरल में विकास और पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं लेकिन हिंसा और विकास एक साथ संभव नहीं हैं. उन्होंने कहा कि केरल में निरंतर हो रही राजनीतिक हत्याएं यह बताने के लिए काफी हैं, कि वामपंथी विचारधारा न देश का विकास चाहती है और ना राष्ट्रवाद की स्थापना.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here