Home Local News अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में बांधा कवियों ने समां

अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में बांधा कवियों ने समां

95
0
SHARE
तूने माँ बाप को रूलाया है, तेरा बेटा तुझे दगा देगा

संवाददाता.
गाजियाबाद. 02 अक्तूबर. 02 अक्टूबर को मुरादनगर, गाजियाबाद की बड़ी रामलीला के तत्वावधान में एक अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया. 
कवि सम्मेलन का शुभारम्भ मधुर गीतकार अशोक ‘पंकज’ की वाणी वंदना से हुआ. इस अवसर पर विख्यात कवयित्री तुषा शर्मा ने अपने मुक्तक, गीत व गजलों से उपस्थित श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया. निगम पार्षद रेखा त्यागी के नेतृत्व में सफाई अभियान चलाया
इसके अलावा कवयित्री तरूणा मिश्रा, शुभम त्यागी ने अपने मुक्तक व गजलों से श्रोताओं को झूमने पर मजबूर कर दिया. कार्यक्रम में हास्य कलाकार बलबीर खिचड़ी, इन्द्रप्रसाद अकेला, विनोद पांडेय ने अपनी हास्य कविताओं से श्रोताओं को हँसा-हँसाकर लोट-पोट कर दिया.
कार्यक्रम के अंत में राष्ट्रीय गीतकार डॉ. जयसिंह आर्य ने अपने मुक्तक, गीत, गजलों से श्रोताओं के मानस को रस विभोर कर दिया. उनके मुक्तक ने श्रोताओं को झकझोर कर रख दिया-
खून तेरा तुझे दगा देगा
दर्द में भी न वो दवा देगा
तूने माँ बाप को रूलाया है
तेरा बेटा तुझे दगा देगा
इस अवसर पर ओज के जाने-माने कवि-गीतकार सत्यपाल ‘सत्यम’ने अपने वीर रस के गीत सुनाकर वातावरण मे राष्ट्रीयता का संचार किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here