Home State News कैट के दिल्ली व्यापार बंद के आह्वान को बड़ा समर्थन, कई संगठन...

कैट के दिल्ली व्यापार बंद के आह्वान को बड़ा समर्थन, कई संगठन आए पक्ष में

137
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
संवाददाता.
नई दिल्ली. 31 जनवरी. राजधानी में लगातार हो रही सीलिंग के विरोध में व्यापारियों का जनाक्रोश प्रदर्शित करने के लिए कन्फेडरेशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स ने आगामी 2 और 3 फरवरी को 48 घंटे के दिल्ली व्यापार बंद का आह्वान किया है. दोनों दिन दिल्ली के सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान पूरी तरह बंद रहेंगे और कारोबारी गतिविधियां ठप्प रहेंगी.
praveen khandelwal
कैट के इस व्यापार बंद को दिल्ली में व्यापारिक संगठनों का बड़ा समर्थन मिल रहा है. दिल्ली के प्रमुख बाजारों कनाट प्लेस, चांदनी चौक, करोल बाग, सदर बाजार, कमला नगर, चावड़ी बाजार, खान मार्किट, साउथ एक्सटेंशन, ग्रेटर कैलाश, डिफेन्स कॉलोनी, ग्रीन पार्क एवं दक्षिणी दिल्ली के सभी प्रमुख मार्किट, राजौरी गार्डन, तिलक नगर, उत्तम नगर, कीर्ति नगर एवं पश्चिमी दिल्ली के अन्य बाजार, अशोक विहार, मॉडल टाउन, शालीमार बाग, पीतमपुरा, रोहिणी एवं उत्तरी दिल्ली के अन्य मार्किट, पहाड़गंज, विकास मार्ग, लक्ष्मी नगर, जगतपुरी, कृष्णा नगर, गाँधी नगर, शाहदरा, लोनी रोड, मयूर विहार आदि बाजारों ने व्यापार बंद में हिस्सा लेने की घोषणा की है. दिल्ली की अन्य मार्किट भी बंद की तैयारी में जुटी हुई हैं. यह भी पढ़ें : गुरुनानक पब्लिक स्कूल पंजाबी बाग में धूमधाम से मना गणतंत्र दिवस, सांस्कृतिक आयोजन के जरिए स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया  कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि इस 48 घंटे के व्यापार बंद में दिल्ली के 2000 से अधिक मार्किटों के 7 लाख से अधिक व्यावसायिक प्रतिष्ठान शामिल होकर अपना विरोध दर्ज कराएंगे. उन्होंने केंद्र सरकार से इस मुद्दे पर तुरंत ध्यान देने की मांग करते हुए कहा कि केंद्र सरकार को अविलम्ब संसद के इसी सत्र में दिल्ली के व्यापार और व्यापारियों को सीलिंग से बचाने के लिए एक बिल लाना चाहिए. और जिन प्रतिष्ठानों की सीलिंग हो गयी है उनको भी खुलवाने का प्रावधान करना चाहिए.
व्यापारियों ने कहा कि कुछ राजनीतिज्ञ इस मुद्दे पर अपने स्वार्थ की राजनीति कर रहे हैं. व्यापारियों को यह कतई बर्दाश्त नहीं होगा. यदि ऐसे लोग कोई राहत देने में सक्षम नहीं हैं, तो उन्हें इस मुद्दे पर बोलने से बचना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here