Home National News भावी पीढ़ी की बेहतरी के लिए चीनी सामान और प्लास्टिक को रोकना...

भावी पीढ़ी की बेहतरी के लिए चीनी सामान और प्लास्टिक को रोकना होगा- इंद्रेश कुमार

130
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली.10 जून. भारत तिब्बत सहयोग मंच के मार्गदर्शक एवं संरक्षक इंद्रेश कुमार ने विश्व पर्यावरण दिवस पर कोलकाता के बड़ा बाजार लाइब्रेरी में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पृथ्वी को प्रदूषण से बचाना है तो प्लास्टिक को ना कहना पड़ेगा. वैसे ही अगर देश को आतंकवाद से बचाना है, तो चीनी सामान को ना कहना होगा. उन्होंने कहा कि आध्यात्मिक एवं पवित्र भूमि तिब्बत से भारत का सदियों पुराना रिश्ता है. हिन्दुओं का पवित्र तीर्थस्थल कैलाश मानसरोवर जहाँ हजारों हिन्दू प्रतिवर्ष दर्शन करने व स्नान करने जाते हैं, वह तिब्बत में ही है. इसलिए तिब्बत को चीन से आजादी दिलानी है. उन्होंने कहा कि आज विश्व में पानी की समस्या बढ़ रही है. यह भी पढ़ें : केंद्र से सीधे निगम को फंड मिलना संभव नहीं, दिल्ली सरकार ही हल कर सकती है समस्या- महापौर  दो दर्जन से ज्यादा देश प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर हिमालय से जुड़े हैं और उन पर चीन की कुदृष्टि है. मंच संकल्प वर्ष में गुरग्राम में एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन फरवरी 2019 में करने जा रहा है, जिस पर पूरे विश्व की नजर रहेगी. यह सम्मलेन पर्यावरण और जल को ही ध्यान में रखते हुए रखा जा रहा है. पश्चिम बंगाल की प्रान्त टीम घोषित करते हुए इंद्रेश कुमार ने कहा कि हमें अपने पड़ोसी तिब्बत का मनोबल बढ़ाने के साथ-साथ इंडो तिब्बत बॉर्डर पर तैनात सुरक्षा बलों का भी मनोबल बढ़ाते रहना चाहिए.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here