Home Uncategorized कंप्लीशन सर्टिफिकेट के लिए अब नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर, एक हफ्ते में...

कंप्लीशन सर्टिफिकेट के लिए अब नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर, एक हफ्ते में मिलेगा कंप्लीशन सर्टिफिकेट

246
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
प्रश्न- दिल्ली में अब बिल्डिंग कंप्लीशन सर्टिफिकेट बस एक हफ्ते के अंदर मिल जाएगा, ऐसा एक चर्चा के दौरान पता चला. क्या यह सही है? यह किस प्रकार प्राप्त किया जा सकेगा? विस्तारपूर्वक बताइए क्या यह रेजीडेंशियल और कमर्शियल दोनों बिल्डिंग्स के लिए होगा या किसी खास कैटेगिरी पर लागू होगा? -सचिन गहलोत
उत्तर- आपने बिल्कुल सही सुना है. यह काफी हद तक सही भी है, कि दिल्ली की तीनों एमसीडी में इस नियम को लागू किया जाएगा. दिल्ली की हाईराइज रेजीडेंशियल या कमर्शियल बिल्डिंग्स के लोगों को पहले इस कंप्लीशन सर्टिफिकेट को प्राप्त करने के लिए महीनों दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते थे. अब इस सर्टिफिकेट को इश्यू कराने के लिए बिल्डिंग का सिंगल जॉइंट इंस्पेक्शन किया जाएगा और उसे प्रक्रिया पूरे होते ही सर्टिफिकेट मिल जाएगा.
Girish Sharma, Property Conslutant
शायद आपको पता ही होगा कि बिल्डिंग का कंप्लीशन सर्टिफिकेट इश्यू करने से पहले अलग-अलग एजेंसियां इसकी जांच करती हैं, जैसे कि जल बोर्ड, दिल्ली अर्बन आर्ट कमीशन, एमसीडी, फायर डिपार्टमेंट इत्यादि. इन सबसे एनओसी मिलने के बाद ही कंप्लीशन सर्टिफिकेट इश्यू किया जाता था. इसमें लगभग 3 से 4 महीने का वक्त लग जाता था. इस नई व्यवस्था के लागू होने के बाद आवेदनकर्त्ता इसे अप्लाई करेगा. आवेदन की तिथि के चार-पांच दिन में उसे एसएमएस या ईमेल के जरिए इंस्पेक्शन की तिथि की जानकारी मिल जायेगी. जिस दिन संबंधित बिल्डिंग की इंस्पेक्शन होनी होगी, उस दिन उस साइट पर सभी विभागों के संबंधित अधिकारी वहां पर मौजूद होंगे. उन सभी की उपस्थिति में यह प्रक्रिया पूरी होगी. इस संपूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी तथा उस इंस्पेक्शन की रिपोर्ट भी आवेदनकर्ता को उसी दिन प्राप्त हो जाएगी. यह भी पढ़ें : कहीं जोखिम ना बन जाये रियल एस्टेट में बिटकॉइन डील.!  मेरी राय में इस पहल का हर आवेदनकर्ता को स्वागत करना चाहिए. क्योंकि इसे प्राप्त करने के लिए पहले लोगों को बहुत परेशानी होती थी. एक दफ्तर से दूसरे दफ्तर महीनों चक्कर काटने पड़ते थे. इस प्रक्रिया से होने वाली परेशानी का नतीजा यह निकला, कि दिल्ली में 60-70 फीसदी आवासीय बिल्डिंग के कंप्लीशन सर्टिफिकेट नहीं हैं. क्योंकि इस प्रक्रिया में परेशानी होने के कारण लोग यह सर्टिफिकेट लेते ही नहीं हैं. इस नए प्रावधान का आवेदनकर्ताओं को फायदा उठाना चाहिए और जल्द से जल्द इसे प्राप्त करना चाहिए.
अधिक जानकारी के लिए आप गिरीश शर्मा के फेसबुक पेज Shanti Properties (Regd.) पर जाकर उनके लिखे पुराने लेख देख सकते हैं, और समय लेकर मिल भी सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here