Home National News देश की खुली सीमाओं की चौकसी करना ज्यादा चुनौतीपूर्ण- राजनाथ सिंह

देश की खुली सीमाओं की चौकसी करना ज्यादा चुनौतीपूर्ण- राजनाथ सिंह

182
0
SHARE
The Union Home Minister, Shri Rajnath Singh launching the Intelligence Manual and Compendium on Nepal and Bhutan, at a function to operationalise the New Intelligence Set-up of the Sashastra Seema Bal (SSB), in New Delhi on September 18, 2017. The Minister of State for Home Affairs, Shri Hansraj Gangaram Ahir and the DG, SBB, Smt. Archana Ramasundaram are also seen.
एसएसबी की नई खुफिया व्यवस्था की शुरूआत

संवाददाता/एजेंसी
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक समारोह में सशस्त्र सीमा बल की नई खुफिया व्यवस्था का संचालन शुरू किया. इसके साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री की मंजूरी के बाद इस बल का एक प्रतीक्षित इंतजार खत्म हो गया. एसएसबी को भारत-नेपाल और भारत-भूटान दोनों ही सीमाओं के लिए प्रमुख खुफिया एजेंसी (एलआईए) के रूप में घोषित किया गया है. गृह मंत्रालय ने बटालियन से लेकर फ्रंटियर मुख्यालय तक विभिन्न रैंकों में 650 पदों को मंजूरी दी है.  सीमा पर करेंगे बुनियादी ढांचे का विकास- राजनाथ सिंह इस अवसर पर राजनाथ सिंह ने कहा कि एसएसबी का काम कहीं अधिक चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि इसे अन्य सीमाओं के विपरीत खुली सीमाओं की पहरेदारी की जिम्मेदारी सौंपी गई है. यह कार्य कहीं अधिक चुनौतीपूर्ण है और हथियारों की तस्करी, नकली भारतीय मुद्रा नोटों (एफआईसीएन), ड्रग्स एवं मानव-तस्करी जैसी अवैध गतिविधियों की रोकथाम के लिए उच्चतम सतर्कता आवश्‍यक है.
इस अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री ने सीएपीएफ के कर्मियों के लिए कल्याण और पुनर्वास बोर्ड मोबाइल एप लांच किया। यह एप गूगल प्‍ले स्टोर पर उपलब्ध है. अपने संबोधन में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुलिस के आधुनिकीकरण पर विशेष बल दिया है और सरकार इसे आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here