Home State News दिल्ली सिख कमेटी ने भेजा गूगल को कानूनी नोटिस, यू-टयूब पर सिखों...

दिल्ली सिख कमेटी ने भेजा गूगल को कानूनी नोटिस, यू-टयूब पर सिखों के खिलाफ भ्रामक प्रचार का मामला

220
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 07 मार्च. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने सिखों के खिलाफ गूगल सर्च इंजन पर मौजूद नफरत भरे वीडियो एवं लेखन सामग्री को हटाने के लिए गूगल को कानूनी नोटिस भेजा है. कमेटी अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के. द्वारा उक्त नोटिस उनके वकील हरप्रीत सिंह होरा द्वारा भेजा गया है. इस बारे जानकारी देते हुए कमेटी के कानूनी विभाग प्रमुख जसविन्दर सिंह जौली ने बताया कि सिखों को बदनाम करने की नीयत से यू-टयूब पर कई ऐसे वीडियो हैं, जो ना केवल सिखों को मजाक उड़ाते हैं बल्कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब एवं सिख गुरुओं के बारे भद्दी शब्दावली भी प्रयोग कर रहें हैं. जिसके फलस्वरूप दिल्ली कमेटी को गूगल को उक्त भद्दी शब्दावली एवं भ्रामक तथ्यों को तुरन्त हटाने की चेतावनी भेजने के लिए मजबूर होना पड़ा है. यह भी पढ़ें : अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में कार्यशालाओं का आयोजन  जौली ने बताया कि यू-टयूब पर ‘सिक्खीजम् एक्सपोज्ड’ नाम के चैनल द्वारा सिख गुरुओं की साखियों को झुठलाने की ओछी कोशिश करते हुए श्री गुरु ग्रंथ साहिब की वाणी का भी मजाक उड़ाया जा रहा है. साथ ही वाणी को अपने हिसाब से गलत अर्थों के साथ पेश करते हुए सिखों की भावनाओं को आहत करने की कोशिश भी चल रही है. जौली ने कहा कि पूरे विश्व में लगभग 25 मिलियन सिख श्री गुरु ग्रंथ साहिब को अपना गुरू मानते हैं, लेकिन जिस तरीके के साथ सिखों को बदनाम करने की कोशिश हो रही है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि एक ओर तो सिख कौम पूरी दुनिया में अपनी ईमानदारी एवं दरियादिली के साथ मानवता की सेवा कर रही है और दूसरी तरफ कुछ सिख विरोधी ताकतें सिख धर्म को बदनाम करने के लिए नफरत के बीज बो रही हैं. जौली ने कहा कि यदि गूगल ने भद्दी शब्दावली और गलत तथ्यों को तुरन्त नहीं हटाया तो दिल्ली कमेटी गूगल के खिलाफ कानूनी कार्यवाई करने से भी पीछे नहीं हटेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here