Home State News सरकार पर जमकर बरसे प्रवीण तोगड़िया, राममंदिर, किसान और रोजगार के मुद्दे...

सरकार पर जमकर बरसे प्रवीण तोगड़िया, राममंदिर, किसान और रोजगार के मुद्दे पर घेरा

97
0
SHARE
प्रवीण श्रीवास्तव/पंकज गोठवाल.
नई दिल्ली. 04 अप्रैल. राजधानी दिल्ली के पंजाबी बाग स्थित सनातन धर्म मंदिर में विश्व हिंदू परिषद द्वारा ‘एक मुट्ठी अनाज’ कार्यक्रम की शुरूआत की गई. इस अवसर पर विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद रहे. अपने संबोधन में मुख्य अतिथि ने ‘एक मुट्ठी अनाज’ कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि देश में 19 करोड़ लोग भूखे सोते हैं, जिसको लेकर देश भर में इस कार्यक्रम की शुरूआत की गई है.
उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का लाभ अभी तक एक लाख लोगों तक पहुंचाया गया है. गौरतलब है, इस कार्यक्रम के लिए इच्छुक सहयोगी हर परिवार से प्रतिमाह 10 किलो अनाज लिया जाएगा, जिसे भूखे-गरीबों तक पहुंचाया जायेगा. कार्यक्रम में डॉ. तोगड़िया केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार ने रोजगार के मुद्दे पर युवाओं से झूठा वादा किया और राम मंदिर के मुद्दे पर भी कुछ नहीं किया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सत्ता में आते ही राममंदिर के मुद्दे को लेकर कोर्ट में चली गई.  यह भी पढ़ें : केजरीवाल ने व्यापारियों को दिया सड़क के लिए निगम से एनओसी लेने का फरमान, नारायणा लोहा मंडी में व्यापारियों से मिले मुख्यमंत्री उन्होंने कहा कि जब सरकार को कोर्ट के द्वारा ही मुद्दा सुलझाना था, तो लाखों कारसेवकों को क्यों पिटवाया गया?
डॉ. तोगड़िया ने कहा कि सरकार का षड्यंत्र है कि वह अयोध्या में बाबरी मस्जिद खड़ी करेगी. पहले कहते थे, कि आंदोलन से जनमानस खड़ा होगा. लेकिन अब कोर्ट की बात करते हैं. प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि आज भी भारत में हिंदू सुरक्षित नहीं हैं? उन्होंने शिक्षा, रोजगार और किसान के मसले पर सरकार को घेरते हुए कहा कि हर साल 12 से 15 हजार किसान आत्महत्या करते हैं. शिक्षा महंगी हो गई है और लोगों को रोजगार ना मिलने का कारण मौजूदा सरकार की नीतियों के चलते व्यापार-उद्योग का चौपट हो जाना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here