Home Local News गिविंग इज लिविंग फाउंडेशन ने 11वें स्थापना दिवस पर रक्तदाताओं व सहयोगियों...

गिविंग इज लिविंग फाउंडेशन ने 11वें स्थापना दिवस पर रक्तदाताओं व सहयोगियों का सम्मान किया

76
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 12 अप्रैल. गिविंग इज लिविंग फाउंडेशन द्वारा अपना 11वां स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ शक्ति नगर के फ्यूजन बैंक्वट हॉल में मनाया गया. कार्यक्रम का शुभारंभ चौपाल के डायरेक्टर समाजसेवी भोलानाथ विज, सरदारी लाल विज, मनोहर लाल बुद्धिराजा, विवेक छिब्बर, तिलक मित्रा द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया. इस मौके पर दिनेश गुप्ता, कपिल महानी, राजीव गर्ग, अतुल मित्तल, डॉ. एन.के. भाटिया, मुनीष वर्मा के अलावा बड़ी तादाद में सामाजिक, धार्मिक जगत की हस्तियां उपस्थित रहीं.
कार्यक्रम में संस्था के डायरेक्टर जी.एस. कपूर ने संस्था के 11 साल के सफल अनुभव साझा करते हुए बताया कि संस्था ने बीते 11 वर्षों में रक्तदान के क्षेत्र में एक नया इतिहास कायम किया है. उन्होंने बताया कि हमारी संस्था बिना किसी भेद-भाव व सिफारिश के किसी भी नागरिक को आपातकालीन स्थिति में नि:शुल्क व नि:स्वार्थ भाव से ब्लड डोनेट करती है. किसी भी आपातकालीन स्थिति में संस्था की हैल्पलाइन नम्बर 9266666666 पर सम्पर्क किया जा सकता है.  यह भी पढ़ें : मंगल पांडे के शहीदी दिवस पर जुटे गणमान्यों ने अर्पित किए श्रद्धासुमन इस मौके पर ब्लड डोनर्स व मरीज तथा उसके तीमारदारों के संस्मरण भी साझा किये गए. संस्था की भविष्य की योजनाओं की जानकारी देते हुए संस्था के अन्य डायरेक्टर रमन विज ने बताया कि हमारी संस्था पूरे भारत वर्ष में इस सेवा का विस्तार करना चाहती है. उन्होंने बताया कि संस्था स्कूल, कॉलेज व युवाओं को रक्तदान की महत्ता के बारे में जागरुक करेगी, ताकि समय पड़ने पर वे रक्तदान करने में कोई संकोच न करें. विज ने बताया कि संस्था स्वेच्छा से ब्लड डोनेट करने वाले नये वॉलेन्टियर्स को भी अपनी संस्था में शामिल करेगी. समाजसेवी भोलानाथ विज ने भी अपने संस्मरण साझा करते हुए संस्था के पदाधिकारियों को साधुवाद देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की. कार्यक्रम में ब्लड डोनर्स, कोआडिनेटर्स व संस्था के सहयोगी के रूप में कार्य करने वाले लोगों को ट्रॉफी आदि देकर सम्मानित भी किया गया. कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था के डायरेक्टर्स जी.एस. कपूर, रमन विज, अमित गुप्ता, राजीव चोपड़ा व सचिन तायल का विशेष योगदान रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here