Home Local News मेट्स में पर्वों का इन्द्रधनुष, जलियांवाला बाग नरसंहार की सौंवीं वर्षगांठ पर...

मेट्स में पर्वों का इन्द्रधनुष, जलियांवाला बाग नरसंहार की सौंवीं वर्षगांठ पर शहीदों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि

93
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 17 अप्रैल. नवसंवत्सर के साथ रामनवमी, बैसाखी, रंगाली बिहू, डॉ. हेडगेवार और डॉ. अंबेडकर जयंती और जलियांवाला बाग शताब्दी वर्ष का जो सिलसिला शुरू हुआ, उसका समापन महाराजा अग्रसेन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी और मैनेजमेंट में आयोजित बहुरंगी कार्यक्रम से हुआ. भारतीय संस्कृति, भक्ति, ओज और राष्ट्र प्रेम से ओत-प्रोत इस कार्यक्रम में देश के जाने-माने कवियों और मनीषियों ने अपने वक्तव्यों और कविताओं से छात्रों को सम्मोहित किया.
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद दिल्ली टेक्निलॉजिकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. योगेश सिंह ने कहा कि छात्र अच्छाई बोना सीखें और संवेदनशील बनें. उन्होंने छात्रों को शपथ दिलाई कि वे जीवन में ऐसा कोई काम न करें जो देश के खिलाफ हो. इस अवसर पर संस्थान के संस्थापक अध्यक्ष डॉ. नन्दकिशोर गर्ग ने अपने संबोधन में डॉ. भीमराव अम्बेडकर के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इस देश को समझने के लिए अम्बेडकर को समझना जरूरी है. उन्होंने समाज में जिस समरसता की बात कही, भगवान राम उसका साक्षात रूप थे. उन्होंने राम को अपने जीवन में उतारा. डॉ. गर्ग ने कहा कि जब सामाजिक समरसता स्थापित हो जाएगी तो आरक्षण की बैसाखी स्वयं ही छूट जाएगी. पूरा समाज अपने पांवों पर, अपनी योग्यता के बल पर ही चलेगा. इस अवसर पर इस वर्ष सिविल सर्विसेज परीक्षा में 38वां स्थान पाने वाले महाराजा अग्रसेन इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी के छात्र लक्ष्य सिंघल ने अपनी सफलता की कहानी छात्रों से साझा की. प्रबंधन की ओर से लक्ष्य को सम्मानित भी किया गया.  यह भी पढ़ें : वी लाइव इंडिया ने लांच किया किफायती मी डीटीएच इस दौरान इटावा से आमंत्रित कवि डॉ. कमलेश शर्मा ने राम की सामाजिक समरसता को रेखांकित करते हुए अपनी कविता ‘इसीलिए तो राम शबरी की कुटिया पर आये’ का पाठ किया. अन्तराष्ट्रीय ख्याति-प्राप्त ओज के कवि डॉ. हरिओम पंवार ने अपनी कविता ‘संविधान बोल रहा हूँ’ और ‘कश्मीर किसी के अब्बा की जागीर नहीं’ से राजनीति और व्यवस्था पर करारी चोट करते हुए युवाओं में जोश का संचार किया. संस्थान की निदेशक डॉ. नीलम शर्मा के स्वागत वक्तव्य शुरू हुए कार्यक्रम का समापन महाराजा अग्रसेन टेक्निकल एजुकेशन सोसायटी के उपाध्यक्ष जगदीश मित्तल द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ.
इस अवसर पर इन तमाम कार्यक्रमों में सोसायटी के चेयरमैन प्रेम सागर गोयल, वाईस चेयरमैन उमेश गुप्ता, जगदीश मित्तल, एस.सी. तायल, महासचिव टी.आर. गर्ग, सुंदर लाल गुप्ता, मोहन गर्ग, ज्ञान अग्रवाल, आर.सी. छारिया, सतीश गुप्ता, मेट के निदेशक जनरल डॉ. एम.एल. गोयल, मेम्स के निदेशक एम.के. भट्ट , मेट के डायरेक्टर प्रोफेसर नीलम शर्मा समेत अन्य गणमान्य मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here