Home State News हरियाणा जाट महासभा ने छत्तीस बिरादरी के लोगों के साथ मनाई मकर...

हरियाणा जाट महासभा ने छत्तीस बिरादरी के लोगों के साथ मनाई मकर संक्रांति, बुजुर्गों को बांटे कंबल

186
0
SHARE
संवाददाता.
रोहतक. 14 जनवरी. हरियाणा जाट महासभा ने स्थानीय गोहाना रोड स्थित प्रांतीय कार्यालय पर छत्तीस बिरादरी के साथ मकर संक्रांति का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया. हरियाणा जाट महासभा के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप हुड्डा ने इस मौके पर उपस्थित बाबाओं व बड़े बुजुर्गों को कम्बल भेंटकर उनका मान-सम्मान किया.
इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों को चाय, रेवड़ी व मूंगफली आदि बांटी गई. कार्यक्रम में युवा समाजसेवी प्रदीप हुड्डा ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के जातिवादी माहौल में ऐसे आयोजनों की बेहद जरूरत है, जिनसे प्रदेश के लोगों में भाईचारा बढ़ सके. इस समारोह में 36 बिरादरी के लोगों के अलावा साधु-संत व सभी धर्मों के लोग शामिल हुए. यह भी पढ़ें : सांसद डॉ. उदित राज ने किया 5 जिमों का उद्घाटन, मंगोलपुरी में नए कार्यालय का भी उद्घाटन 
हुड्डा ने खुशी जताते हुए कहा कि आज हरियाणा जाट महासभा पूरे प्रदेश में 36 बिरादरी को एकजुट रखने के साथ-साथ सामाजिक समरसता की अलख भी जगा रही है. उन्होंने कहा कि ऐसे त्यौहार हमें बड़े-बुजुर्गों का सम्मान करने, राष्ट्रवाद व भाईचारे बढ़ाने का संदेश देते हैं. उन्होंने कहा कि आज बड़े अफसोस की बात है, कि वर्तमान युवा पीढ़ी में बड़े-बुजुर्गों के प्रति मान-सम्मान की कमी देखने को मिल रही है. उन्होंने कहा कि उन्हें उस समय बड़ी खुशी होगी, जब समाज में वृद्धाश्रम में रहने की बजाय बड़े-बुजुर्गों को उनकी संतानें मान-सम्मान के साथ अपने साथ घर में रख उनकी सेवा करेंगी. 

प्रदीप हुड्डा ने कहा कि हिंदू धर्म में मकर संक्रांति का बहुत महत्व माना गया है. वेदों और पुराणों में भी इस दिन का विशेष उल्लेख मिलता है. हरियाणा जाट महासभा के प्रदेशाध्यक्ष ने प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसे समारोह से न केवल लोहड़ी व मकर सक्रांति उत्सव की परंपरा का निर्वहन हुआ है, बल्कि पारस्परिक समरसता से परिवारों के एक-दूसरे से मिलने का भी सुअवसर मिला है. उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में ये त्यौहार ही आपस में लोगों को जोड़े हुए हैं. ऐसे त्यौहार हमें राष्ट्रवाद का संदेश देते हैं और सामाजिक सद्भावना के साथ मिल-जुलकर आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं.
इस मौके पर बाबा कपिल पुरी, बाबा सुक्खा शाह, पार्षद संजय सैनी, शकरूद्दीन खान, सरदार हरप्रीत सिंह, राजीव जैन, संजय भूटानी, लोकीराम प्रजापति, बलवान रंगा, सुरेन्द्र चावला, वेदपाल पहलवान, बिजेन्द्र पंवार, राजीव सांगवान, सुरेन्द्र गुप्ता, चौ. होशियार सिंह, पृथी सिंह, रमेश जांगड़ा, देवेन्द्र वर्मा, सत्यपाल किराड़, राजेश नरवाल, राज सिंह बलियाणा, चौ. दालेराम, चौ. बलबीर हुड्डा व सत्ते पहलवान सहित अनेक गणमान्य मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here