Home States बिगड़ती कानून व्यवस्था और बढ़ते यौन अपराधों पर हरियाणा जाट महासभा के...

बिगड़ती कानून व्यवस्था और बढ़ते यौन अपराधों पर हरियाणा जाट महासभा के प्रदेशाध्यक्ष ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा

246
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
संवाददाता.
रोहतक. 30 जनवरी. हरियाणा की मौजूदा भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था बिगड़ जाने तथा यौन अपराधों में बेतहाशा बढ़ोतरी पर दुख जताते हुए समाजसेवी व हरियाणा जाट महासभा के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप हुड्डा ने कहा है, कि मौजूदा भाजपा सरकार में बेटियों का जिस तरह से शोषण हो रहा है, उसमें बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा बेमानी है. उन्होंने कहा कि राज्य में आये दिन महिलाओं के साथ होने वाली घिनौनी वारदातों ने कानून व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है. हुड्डा ने कहा कि अब वक्त आ चुका है, कि सभी प्रदेशवासी बढ़ते अपराधों के विरोध में अपनी आवाज बुलंद करें और सरकार को आईना दिखाने का काम करें.
प्रदीप हुड्डा, जाट महासभा हरियाणा, प्रदेशाध्यक्ष
जाट महासभा के प्रदेशाध्यक्ष ने हाल ही में हेल्थ यूनिवर्सिटी रोहतक की छात्राओं के यौन उत्पीड़न मामले को उठाते हुए कहा कि इस मामले में परीक्षा नियंत्रक के खिलाफ छात्राओं द्वारा यौन उत्पीड़न की शिकायतें मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पास कई बार भेजी गई थीं, लेकिन मुख्यमंत्री ने तमाम शिकायतों के बावजूद उन पर कोई कार्रवाई नहीं की. हुड्डा ने कहा कि इन छात्राओं ने आखिरकार पुलिस के पास जाने का फैसला लिया और प्राथमिक विवेचना के बाद अब परीक्षा नियंत्रक के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो चुका है. हुड्डा ने कहा कि जब छात्राओं द्वारा पुख्ता प्रमाण पुलिस को दिए जा चुके हैं, फिर भी परीक्षा नियंत्रक को गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा रहा? उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार ये किस तरह का ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’अभियान चला रही है. यह भी पढ़ें : शपथ से पहले अपने स्कूल और हॉस्पीटल पहुंचे नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद डॉ. सुशील गुप्ता  उन्होंने कहा कि हरियाणा की जनता को समझना होगा कि सिर्फ अच्छे नारों के बूते प्रशासन नहीं चलता, उसके लिए अच्छे और ठोस निर्णय लेने पड़ते हैं, जिस मोर्चे पर यह सरकार पूरी तरह से विफल है. हुड्डा ने कहा कि समय आ गया है, कि प्रदेशवासी समझें कि कानून व्यवस्था के साथ यह खिलवाड़ भाजपा सरकार की देख-रेख में हो रहा है, जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here