Home Astro घर में अगर लोग पड़ते हों बार-बार बीमार, जान लीजिए कहीं वास्तु...

घर में अगर लोग पड़ते हों बार-बार बीमार, जान लीजिए कहीं वास्तु दोष तो नहीं कारण..!

103
0
SHARE
Astrologer Vipul chauhan @swabhuti Jyotish Gharana
आज के जीवन में घर का निर्माण करना बहुत बड़ी बात है. लोग अपने पूरे जीवन की जमा-पूंजी और मेहनत घर निर्माण में लगा देते हैं, परंतु घर बनाने की खुशी और उसके लिए जल्दबाजी के चलते घर का निर्माण अपनी जरूरतों, आवश्यकताओं के अनुरूप करा लेते हैं. कभी-कभी निर्माण लोगों को फलता है और ज्यादातर लोगों को बाद में परेशानी का सामना करना पड़ता है. इसका कारण होता है घर का वास्तु दोष. इसके चलते लोगों को घर में मेल-जोल, आपस में प्यार की कमी, घर में कम खुशियों के मौके, बच्चों की असफलता, घर में बीमारियों का खत्म ना होना आदि जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. यह भी पढ़ें : ऐसे मनाएं धनतेरस…  वास्तु अपने में ही विज्ञान है. इसका हर उपाय विज्ञान से जुड़ा होता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार पांच तत्वों (अग्नि, पृथ्वी, जल, आकाश और वायु) 8 कोण दिशाएं, ब्रह्मं स्थल को घर निर्माण में संतुलित करने की आवश्यकता होती है. इसी तरह कुदरत ने मनुष्य के शरीर को भी पांच तत्वों से ही बनाया है. इन पांच तत्वों का सही संतुलन शरीर में एक अच्छे और स्वस्थ शरीर की पहचान होता है. इसी तरह शरीर के पांच तत्वों को और घर के पांच तत्वों को आपस में संतुलित करने की आवश्यकता होती है. ऐसा ना होने पर घर में अशांति, बीमारियां, असफलता धन की कमी, जरूरतों का ना पूरा होना आदि जैसी समस्या बनी रहती हैं.
उदाहरण के तौर पर घर में लोगों का बार-बार बीमार पड़ना. ऐसे में अगर कोई बीमार व्यक्ति वायु कोण (और उस व्यक्ति का सर उत्तर में है) में सोता है तो उसकी बीमारी वायु के चलते घर में बाकी सभी लोगों को फैल जाएगी और लोग घर में एक के बाद एक बीमार पड़ते रहेंगे.
इसके लिए उपाय के तौर पर उस व्यक्ति को अग्नि कोण में सोना चाहिए. अग्नि अपनी हीट से बीमारी के जीवाणुओं को जला देगी और उस व्यक्ति को रिकवरी करने में मदद मिलेगी.
इसलिए जरूरी है, कि घर का निर्माण करते समय वास्तु शास्त्र विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए ताकि घर में वास्तुदोष ना लगे. और अगर घर में वास्तु दोष है तो इसे विशेषज्ञ के जरिए छोटे-छोटे टिप्स और उपाय से ठीक करा सकते हैं. जिसमें आपका जीवन सुखमय और मंगलमय हो..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here