Home Local News नियम-कायदों को ताक पर रखकर रामपुरा वार्ड में अवैध निर्माण जोरों पर,...

नियम-कायदों को ताक पर रखकर रामपुरा वार्ड में अवैध निर्माण जोरों पर, निगम की मिलीभगत से फल-फूल रहा है अवैध कार वाशिंग सेंटर का भी धंधा

86
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
संवाददाता.
नई दिल्ली. 13 अप्रैल. हाईकोर्ट व एनजीटी चाहे जितने भी कड़े नियम बना दें, परंतु निगम का प्रशासनिक अमला इनको ठेंगा दिखाने में वक्त नहीं लगाता है. पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में इन नियम-कायदों का जमकर मखौल उड़ाया जा रहा है. उत्तरी दिल्ली नगर निगम के केशवपुरम जोन के रामपुरा वार्ड में भी बिल्डिंग बायलॉज को किनारे रखते हुए अवैध निर्माण जोरों पर हैं. यहां का कब्जा ग्रुप सरेआम पर्यावरण सुरक्षा के नियमों को क्षेत्र में प्रशासनिक लापरवाही, भ्रष्टाचार व निगमकर्मियों की मिलीभगत से यह काम तेजी से चल रहा है. रामपुरा वार्ड के शकूरपुर, श्रीनगर, राजा पार्क जैसे क्षेत्रों में
सांकेतिक चित्र
निगमकर्मियों की मिलीभगत से अवैध निर्माणों के चलते क्षेत्रवासियों का जीना दूभर हो गया है. पर्यावरण और मजदूरों की सुरक्षा से संबंधित तमाम नियमों को ताक पर रखकर बिल्डर्स यहां पर मनमानी से इमारतों का निर्माण कर रहे हैं। लगातार उड़ती धूल और तमाम मलबा यूँ ही सड़क पर पड़ा रहने के चलते लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है. यह भी पढ़ें : नेताजी सुभाष पैलेस मॉल बना अवैध पार्किंग का अड्डा, ठगी का शिकार हो रहे हैं लोग हाईकोर्ट व एनजीटी की सख्त चेतावनी के बावजूद यहां बिल्डिंग माफिया इस कदर हावी हो चला है, कि बिना बिल्डर के अपना घर बनाना सपने सरीखा हो गया है. इससे अलग क्षेत्र में अवैध कार वाशिंग सेंटर का गोरखधंधा भी निगम की मिलीभगत से खूब फल-फूल रहा है. एक तरफ जहां अवैध जल दोहन पर रोक लगी हुई है, वहीं रेलवे रोड समेत पूरे रामपुरा वार्ड में जगह-जगह अवैध कार वाशिंग सेंटर खुल गए हैं. जो न सिर्फ अवैध तौर पर जल दोहन कर रहे हैं, बल्कि सड़कों पर अतिक्रमण करके गाड़ियों की वाशिंग करते हुए गंदगी भी फैला रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here