Home State News विश्व पुस्तक मेले में आयोजित कवि सम्मेलन में कविताओं पर जमकर झूमे...

विश्व पुस्तक मेले में आयोजित कवि सम्मेलन में कविताओं पर जमकर झूमे श्रोता

56
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 08 जनवरी. विश्व पुस्तक मेले में पहले दिन 5 जनवरी को डॉ. जयसिंह आर्य के संचालन और अर्चना अंजुम के संयोजन में एक कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया. प्रवीण आर्य के सान्निध्य में आयोजित इस कवि सम्मेलन में सभी आमंत्रित कवियों का सम्मान संस्था के सचिव बृजेश गर्ग ने किया. मुन्नालाल जैन की अध्यक्षता में आयोजित इस कवि सम्मेलन के अवसर पर मानवता के उन्नायक प्रयागराज महाकुम्भ पर विचार गोष्ठी का भी आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत गौतम मौजूद रहे, जबकि मुख्य वक्ता मध्यप्रदेश के श्रीराम परिहार रहे. संस्था की सचिव कवयित्री पूनम मटिया के संचालन में आयोजित इस कवि सम्मेलन का शुभारंभ गीतकार रामलोचन की सरस्वती वंदना के साथ हुआ. यह भी पढ़ें : दिल्ली स्टेट कॉपी मैनुफक्चरर्स एसोसिएशन चावड़ी बाजार के प्रधान चुने गये विकास बब्बर, कापी उद्योग में जीएसटी की समान दरों की मांग दोहराई जिसके बाद सुनीता बग्गा, गुरूग्राम से पधारी कवयित्री सुश्री इंदु निगम व पूर्णिमा अग्रवाल ने अपने गीतों की गंगा से श्रोताओं का मन मोह लिया. इस अवसर पर गजलकार हेमन्त शर्मा ‘दिल’ गाजियाबाद, राजेन्द्र निगम गुरूग्राम, जगदीश भारद्धाज ने अपनी गजलों से सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया. यही नहीं हास्य कवि सुरेन्द्र खास व नमन ने अपनी हास्य-व्यंग्य कविताओं से श्रोताओं को हँसा-हँसाकर लोट-पोट कर दिया. युवा कवि सुमित द्विवेदी नोएडा और चेतन आनंद गाजियाबाद ने अपनी राष्ट्रीयता से ओत-प्रोत रचनाओं से देशभक्ति का संदेश दिया. कार्यक्रम के अंत में डॉ. जयसिंह आर्य ने अपने दोहे, मुक्तक, गीत व गजलों को सुनाकर सभी को रस-विभोर कर दिया. समारोह के समापन पर संस्था के महामंत्री मनोज शर्मा, संजीव सिन्हा व अक्षय अग्रवाल ने सभी आगन्तुकों व कवियों का आभार प्रकट किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here