Home Arts & Culture रिमझिम फुहारों के बीच सजी सुरमयी शाम में किशोर दा को याद...

रिमझिम फुहारों के बीच सजी सुरमयी शाम में किशोर दा को याद किया, कुमार शानू और अनुराधा पौडवाल ने बांधा समां

453
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 07 अगस्त. बारिश की फुहारों के बीच कुमार शानू और अनुराधा पौडवाल ने अपने सुरों के जादू से दिल्लीवासियों का दिल जीत लिया. मशहूर गायक किशोर कुमार के जन्मदिन पर महाराजा अग्रसेन यूनिवर्सिटी, सुर आराधना और कुमार शानू विद्या निकेतन के संयुक्त तत्वावधान में ‘किशोर कुमार से कुमार शानू तक’ संगीत संध्या का आयोजन किया. यह भी पढ़ें : पलायन रोकने और स्वरोजगार पर चर्चा हेतु देवभूमि पलायन रोको कल्याण समिति द्वारा बैठक आयोजित महाराजा अग्रसेन यूनिवर्सिटी के चांसलर डॉ. नन्दकिशोर गर्ग की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर उपस्थित थे. सभी गणमान्य अतिथियों के साथ विशेष रूप से उपस्थित मोहन गर्ग और जगदीश राय गोयल तथा सुर आराधना के संस्थापक ट्रस्टी आर.एस. शर्मा ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया. दर्शकों से खचाखच भरे सभागार में जैसे ही कुमार शानू और अनुराधा पौडवाल ने सुर बिखेरे एक जादुई समां बंध गया. जिन्दगी इक सफर है सुहाना …..से शुरू होकर तमाम गीतों से किशोर कुमार के फिल्मी गीतों का सफर शुरू हो गया. अनेक लोकप्रिय और नए गायकों ने किशोर कुमार को उनके गीत गाकर याद किया.
गौरतलब है, कि अब तक की अपनी गायकी के सफर में कुमार शानू और अनुराधा पौडवाल ने कभी भी एक साथ मंच साझा नहीं किया. पहली बार दोनों ने दिल्ली में मंच भी साझा किया और युगल गीत भी गाए. ‘किशोर दा से कुमार शानू तक’ के फिल्मी गीतों के सफर के चलते इन गायकों ने अपनी आवाज का जादू ऐसा बिखेरा कि श्रोतागण झूमने पर मजबूर हो गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here