Home State News किसानों की मांगों को लेकर कांग्रेस की राजघाट से हुंकार, पूर्ण कर्ज...

किसानों की मांगों को लेकर कांग्रेस की राजघाट से हुंकार, पूर्ण कर्ज माफी और लागत का डेढ़ गुना दाम देने की मांग

65
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 21 जनवरी. छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में किसानों के मुद्दे उठाकर सत्ता हासिल कर चुकी कांग्रेस 2019 लोकसभा चुनाव से पहले इस मुद्दे को गरमाये रखना चाहती है. पिछले वर्ष नवंबर में जहां हजारों की तादाद में किसान संगठनों ने दिल्ली की तरफ कूच किया था, वहीं अब आॅल इंडिया किसान कांग्रेस ने किसानों की मांगों को लेकर देश के सभी राज्यों एवं जनपदों में जारी सत्याग्रह पदयात्रा का समापन करते हुए सरकार के समक्ष कई मांगें रखी हैं. राजधानी दिल्ली के किसान घाट और राजघाट पर किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष नाना पटोले, उपाध्यक्ष सुरेंद्र सोलंकी सहित हजारों की तादाद में कांग्रेस के किसान कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में सत्याग्रह पदयात्रा का समापन किया. इस दौरान बैनर एवं पोस्टरों के जरिए केंद्र सरकार के खिलाफ अपना विरोध जताते हुए प्रदर्शनकारियों ने किसानों का पूरा कर्ज माफ किए जाने, फसली नुकसान पर मुआवजा राशि में बढ़ोत्तरी तथा किसानों के बच्चों के लिए रोजगार की व्यवस्था की मांग रखी. यह भी पढ़ें : चुनावी सफलता के लिए नहीं, लोकसभा सीटों की बेहतर खरीद-फरोख्त के लिए हुआ सपा-बसपा गठबंधन- शांत प्रकाश जाटव सत्याग्रह पदयात्रा में किसान नेता नाना पटोले ने कहा कि किसानों की उसकी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिलने से किसान कर्ज के दलदल में फंस गया है, इसलिए सरकार किसानों का कर्जा माफ करे.  साथ ही किसान की फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकारी एजेंसियों से खरीदा जाना सुनिश्चित करे. और किसानों को उसकी फसल की लागत का 50 प्रतिशत लाभ दिया जाए. इसके अलावा न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम में बिकने वाली फसल का भावांतर सरकार द्वारा दिये जाने की मांग की. इस अवसर पर नाना पटोले ने फसल बीमा योजना स्कीम को दुरुस्त किये जाने तथा किसानों द्वारा प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से दिए गए प्रीमियम का भार कम किये जाने की मांग की. किसान नेता ने इसमें अन्य फसलों के साथ फल एवं सब्जियों की खेती को भी शामिल किये जाने की मांग की. इस अवसर पर किसान कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुरेंद्र सोलंकी ने कहा कि जब तक मोदी सरकार किसानों का कर्जा माफ नहीं करेगी, तब तक किसान कांग्रेस आंदोलन करते हुए सरकार को चैन से नहीं बैठने देगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here