Home Local News डॉ. अंबेडकर स्टेडियम में सीए हैप्पीनेस क्लब का उद्घाटन समारोह

डॉ. अंबेडकर स्टेडियम में सीए हैप्पीनेस क्लब का उद्घाटन समारोह

63
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 11 मार्च. सीए हैप्पीनेस क्लब का उद्घाटन समारोह राजधानी दिल्ली के डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित किया गया. क्लब के अध्यक्ष सीए सुनील जिंदल ने इस उद्घाटन समारोह में कहा कि सभी चार्टर्ड अकाउंटेंट को एक कॉमन प्लेटफार्म पर लेकर आने के लिए इस क्लब का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि अनेक सीए ऐसे हैं, जिनके अंदर सिर्फ अपना काम बखूबी निभाने की अलावा भी अनेकों प्रतिभाएं हैं, जैसे कि मिमिक्री करना, कविता लिखना, शायरी, मुशायरा, डांस आदि में भी महारत हासिल है. उन सभी की प्रतिभा का आनंद दूसरे सीए भी उठा सकें, इसलिए आज सीए हैप्पीनेस क्लब का सपना साकार हुआ है. इस आयोजन को सफल बनाने में सभी चार्टर्ड अकाउंटेंट ने बढ़-चढ़कर भाग लिया. इस अवसर पर जाने-माने समाजसेवी और हनुमान भक्त सीए सुशील तायल ने शानदार तरीके से लोगों का मनोरंजन करते हुए इस क्लब के बारे में पूरी जानकारी दी. आयोजन के दौरान सीए गिरीश मित्तल ने कहा कि कई बार सीए के सामने और भी समस्याएं आती रहती हैं. उन समस्याओं को भी यह क्लब सीए इंस्टीट्यूट को अवगत कराता रहेगा.  यह भी पढ़ें : ‘बागला कप’ के आयोजन के साथ राजस्थान दिवस सेलिबे्रट करेगा राजस्थान रत्नाकर, गुरु गोविंद सिंह कॉमर्स कॉलेज में होगा आयोजन इस कार्यक्रम में आईसीएआई के मौजूदा उपाध्यक्ष सीए अतुल गुप्ता, उत्तरी भारत के चेयरमैन सीए हरीश चौधरी और सभी निवर्तमान अध्यक्षों ने अपनी सहभागिता दर्ज कराते हुए क्लब के उद्देश्यों को सफल बनाने में अपना सहयोग देने का वादा किया. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर एसएमसी के इन्वेस्टमेंट एडवाइजर डी.के. अग्रवाल ने क्लब गठन के इस विचार की सराहना करते हुए इसे क्लास इन इट्स ओन कहकर लोगों को प्रोत्साहित किया.
इस दौरान मौजूद वक्ताओं ने कहा कि आज चार्टर्ड अकाउंटेंट्स अपने दिमाग से लोगों की आडिट, टैक्स फाइलिंग, जीएसटी, फंडिंग सहित अनेकों प्रकार के काम में अपना अमूल्य समय लगाता है, जो सभी बहुत जटिल कार्य हैं. इन सभी जिम्मेदारियों को निभाने की निश्चित तारीखें हैं, जो हर त्यौहार के आस-पास आती रहती हैं. होली हो या दीपावली, सावन का महीना हो या कोई त्यौहार, सीए हर वक्त लोगों के काम की टेंशन में जी रहे होते हैं. घर में अगर शादी भी है तो वह कई बार इन सब जिम्मेदारियों के कारण उस कार्यक्रम में भी पूरी तरह से शरीक नहीं हो पाते. उन्हें भी अपनी जिंदगी में खुशियों के पल का आनंद लेने का पूरा हक है, जिसमें यह क्लब बड़ी हद तक सहायक होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here