Home Astro अभीष्ट सिद्ध करेगी, गुप्त नवरात्र की साधना.. !

अभीष्ट सिद्ध करेगी, गुप्त नवरात्र की साधना.. !

294
0
SHARE
सांकेतिक चित्र
श्री दुर्गा जी को शक्ति का प्रतीक माना जाता है. मान्यता है, कि वह इस चराचर जगत में शक्ति का संचार करती हैं. उनकी आराधना के लिए ही साल भर में दो बार बड़े स्तर पर लगातार नौ दिनों तक उनके अनेक रूपों की पूजा की जाती है.
आचार्य नवराज पंत
नौ दिन तक मनाए जाने वाले इस पर्व को नवरात्र कहा जाता है, जिसके अंतर्गत माँ के अनेक रूपों की पूजा की जाती है. इन नवरात्र को चैत्र नवरात्र और शारदीय नवरात्र के नाम से जाना जाता है. परन्तु साल में दो बार नवरात्र ऐसे भी आते हैं, जिसमें माँ दुर्गा की दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है. यह साधना चैत्र और शारदीय नवरात्र से कठिन होती है. परन्तु मान्यता है, कि इस साधना के परिणाम बड़े आश्चर्यचकित करने वाले होते हैं.  यह भी पढ़ें : घर में अगर लोग पड़ते हों बार-बार बीमार, जान लीजिए कहीं वास्तु दोष तो नहीं कारण..! गुप्त नवरात्र में माँ दुर्गा की आराधना गुप्त रूप से की जाती है, इसलिए इन दो नवरात्र को गुप्त नवरात्र कहते हैं. गुप्त नवरात्र आषाढ़ मास शुक्ल पक्ष में एवं माघ मास शुक्ल पक्ष में मनाए जाते हैं. गुप्त नवरात्र की जानकारी उन लोगों को होती है, जो महाविद्याओं की अभिरुचि रखते हैं. जो विशेष कार्य ओर दिनों में असाध्य लगता हो वह इन नवरात्र में निश्चित ही होते हैं. इस वर्ष 18 जनवरी 2018 से 26 जनवरी 2018 तक यह नवरात्र होंगे. आप भी अभीष्ट सिद्धि हेतु गुप्त नवरात्र की साधना कर सकते हैं, माँ की असीम कृपा आपके ऊपर होगी.
(आचार्य नवराज पंत)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here