Home State News अभिनंदन समारोह में बोले शंकराचार्य, मंदिर अयोध्या में नहीं तो कहां बनेगा.?

अभिनंदन समारोह में बोले शंकराचार्य, मंदिर अयोध्या में नहीं तो कहां बनेगा.?

125
0
SHARE
संवाददाता.
मुरादाबाद. 17 दिसंबर. भगवान राम का मंदिर अयोध्या में नहीं बनेगा तो कहां बनेगा.? उच्चतम न्यायालय का निर्णय शत-प्रतिशत राम मंदिर के पक्ष में आएगा. पूरे देश में हिंदू धार्मिक संस्थानों को छोड़कर अन्य किसी धर्म के संस्थान पर सरकार का अधिकार नहीं है. बद्रीनाथ, तिरुपति बालाजी, माता वैष्णो देवी जैसे अनेकों मंदिर, तीर्थ स्थल देश में है जिन पर सरकार का नियंत्रण है. यह बातें मुरादाबाद में आयोजित अभिनंदन समारोह में आए द्वारका शारदा पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी अच्युतानंद तीर्थ महाराज ने प्रेस वार्ता के दौरान कही. 
मुरादाबाद में मातृ छाया संस्कृति कला केंद्र सिविल लाइंस में द्वारका शारदा पीठाधीश्वर जगद्गुरु जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी अच्युतानंद तीर्थ महाराज का अभिनंदन समारोह संपन्न हुआ. कार्यक्रम का आयोजन मुरादाबाद और दिल्ली के भक्तों द्वारा किया गया. महाराजश्री के अनन्य भक्त दिल्ली निवासी समाजसेवी राजाराम जिंदल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर स्वामी भूमानंद ट्रस्ट चंदौसी द्वारा संगीतमय सुंदरकांड पाठ का आयोजन हुआ. यह भी पढ़ें : सांस्कृतिक प्रकोष्ठ के कार्यक्रम में बोले दिल्ली भाजपाध्यक्ष मनोज तिवारी, दूसरी कोई भी पार्टी संस्कारों के लिए काम नहीं करती  इस अवसर पर आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान जगद्गुरु शंकराचार्य ने कहा कि जब तक देश में गाय माता रहेगी, तब तक देश सुरक्षित रहेगा. उन्होंने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है, लेकिन कुछ लोग केमिकल वाली खेती कर रहे हैं. जिससे लोग बीमार हो रहे हैं. महाराजश्री ने कहा कि गाय के गोबर से बनी खाद का प्रयोग अपने खेतों में करना चाहिए, इससे खेती भी ज्यादा होगी मनुष्य भी स्वस्थ्य रहेगा. स्वामी अच्युतानंद तीर्थ महाराज ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी वास्तविक संन्यासी हैं और राजनीति से हटकर इस प्रदेश को चला रहे हैं. उन्होंने गंगा की सफाई पर कहा कि गंगा का शुद्ध होना जरूरी है, नहीं तो अगला युद्ध जल के लिए होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here