Home Tags आचार्य नवराज पन्त

Tag: आचार्य नवराज पन्त

पंचम भाव का सुख कैसे प्राप्त होता है..?

पंचम स्थान संतान का होता है. वही विद्या का भी माना जाता है. पंचम स्थान कारक गुरु और पंचम स्थान से पंचम स्थान (नवम...

राहु चन्द्र की युति बनायेगी चिन्ता का योग..!

राहु और चन्द्र किसी भी भाव में एक साथ जब विराजमान हों, तो हमेशा चिन्ता का योग बनाते हैं. राहु के साथ चन्द्र होने...

कुंडली में पंचम स्थान पर निर्भर है संतान सुख…

एस्ट्रो टिप्स. पंचम स्थान संतान का होता है. वही विद्या का भी माना जाता है. पंचम स्थान कारक गुरु और पंचम स्थान से पंचम स्थान...