Home States नक्सलवाद से निपटे बिना छत्तीसगढ़ का संपूर्ण विकास संभव नहीं, नई सरकार...

नक्सलवाद से निपटे बिना छत्तीसगढ़ का संपूर्ण विकास संभव नहीं, नई सरकार को चुनावी वायदे पूरे करने होंगे- बृजमोहन अग्रवाल

81
0
SHARE
बृज मोहन अग्रवाल, वरिष्ठ बीजेपी नेता, पूर्व कृषि मंत्री, छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव से 15 साल की सियासी जमीन खोने के बाद भाजपा आगामी लोकसभा चुनाव के जरिए प्रदेश की राजनीति में वापसी करने की पुरजोर कोशिश कर रही है. प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल से छत्तीसगढ़ की प्रादेशिक समस्याओं, नोटबंदी से बेरोजगारी की बढ़ती दर, छत्तीसगढ़ की मौजूदा राजनीति और लोकसभा चुनाव में भाजपा की तैयारियों समेत तमाम विषयों पर पत्रकार प्रवीण श्रीवास्तव ने उनसे बात की. प्रस्तुत हैं बातचीत के मुख्य अंश-

प्रश्न- छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने हार का कारण कार्यकर्ताओं की बेरूखी और पार्टी के घोषणापत्र को बताया था. पार्टी इस अंदरूनी कलह के बीच लोकसभा चुनाव की तैयारी किस प्रकार कर रही है?
उत्तर- विधानसभा चुनाव क्षेत्रीय मुद्दों का चुनाव था, जबकि लोकसभा चुनाव राष्ट्रीय मुद्दों पर होगा. और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर किए गए काम काफी प्रशंसनीय हैं. जिसमें छत्तीसगढ़ में आवासीय योजना के तहत 40 लाख लोगों ने आवेदन किया और उज्जवला योजना के तहत लाखों लोगों ने एलपीजी सिलेंडर का प्रयोग करके धुएं से छुटकारा पाया है.  यह भी पढ़ें : छोटे किसान को कर्ज के दलदल से बचाएगी सालाना छह हजार रूपये की राशि, आगे और भी कदम उठायेगी सरकार- देवेश गुप्ता प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत लगातार सड़कें बनीं हैं, तो वहीं आयुष्मान योजना के जरिए अनेक लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिली हैं. यही नहीं केंद्र सरकार ने व्यापारियों को जीएसटी और नोटबंदी का उपहार देकर व्यापार को सरल बनाया. छत्तीसगढ़ का जनमानस लोकसभा चुनाव में भाजपा के साथ है.
प्रश्न- अंतरिम बजट में सरकार ने किसानों को प्रतिमाह 500 रुपए देने का प्रस्ताव रखा है, जो रोजाना के हिसाब से 17 रुपए बनता है. क्या इस राशि को आप किसानों के लिए जायज मानते हैं?
उत्तर- यह 500 या 17 रूपये का मसला नहीं है. सरकार किसानों की सहायता के लिए 6000 रुपए सालाना इन्कम देगी, जिसमें मौसम के चलते फसल खराब होने पर किसानों के लिए यह राशि सहायक साबित होगी. और सरकार आने वाले समय में भी किसानों के लिए बेहतर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है. ये तो एक शुरूआत है.
प्रश्न- छत्तीसगढ़ की मुख्य समस्या आप किसे मानते हैं?
उत्तर- छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद मुख्य समस्या है. हालांकि नक्सलवाद केवल छत्तीसगढ़ राज्य की समस्या नहीं है, यह अन्य कई राज्यों के लिए भी समस्या है. फिर भी नक्सलवाद के रहते राज्य का संपूर्ण विकास नहीं हो सकता, इसलिए नक्सलवाद का समाधान काफी जरूरी है.
प्रश्न- 15 सालों से राज्य में भाजपा की सरकार थी, फिर भी नक्सलवाद की समस्या जस की तस दिखती है.
उत्तर- भाजपा सरकार ने नक्सलवाद के खिलाफ काफी काम किया, जिससे बड़े स्तर पर नक्सलवाद का खात्मा भी हुआ. लेकिन अभी भी नक्सलवाद छत्तीसगढ़ की समस्याओं में शामिल है, जिसके लिए मौजूदा सरकार को इस पर विशेष काम करना होगा.
प्रश्न- छत्तीसगढ़ की नई कांग्रेस सरकार के कार्यकाल को किस रूप में देखते हैं?
उत्तर- सरकार को अभी आए हुए चंद महीने ही बीते हैं, इसलिए इस सरकार के कामकाज पर टिप्पणी करना बेहद जल्दबाजी होगी. लेकिन सरकार ने जनता से शराबबंदी और बेरोजगारी भत्ता देने का वादा किया था, उसे पूरा करना चाहिए. वरना जनता लोकसभा चुनाव के दौरान सरकार से वादा पूरा ना करने का सवाल जरुर पूछेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here