Home Local News त्रिलोकपुरी वार्ड में सफाई व्यवस्था से लेकर सौंदर्यीकरण तक पर चल रहा...

त्रिलोकपुरी वार्ड में सफाई व्यवस्था से लेकर सौंदर्यीकरण तक पर चल रहा है काम

126
0
SHARE
चुनाव के छह महीने बाद आपके वार्ड में क्या बदला

वार्ड नंबर 2 त्रिलोकपुरी पूर्व

प्रवीण श्रीवास्तव.
पूर्वी दिल्ली नगर निगम के वार्ड नंबर 2 त्रिलोकपुरी पूर्व से चुने गये आम आदमी पार्टी के निगम पार्षद रोहित कुमार महरौलिया ने अपने वार्ड को विकसित करने में अभी तक क्या कदम उठाये हैं, इस पर हमने उनसे बात की. निगम चुनाव को 6 महीने से ज्यादा का वक्त बीत चुका है. इस समय में उन्होंने अपने चुनावी वायदे पूरा करने के लिए क्या काम किया है, इस पर हमने उनसे बात की, तो निगम पार्षद रोहित ने कहा कि वह बीते 6 महीनों के दौरान किए गए कामकाज से पूरी तरह संतुष्ट हैं. रोहित कहते हैं, कि बीते कई सालों से क्षेत्र में गंदगी से लोग बेहाल थे, उन परिस्थितियों को उन्होंने अपने छह महीने के कार्यकाल में खत्म किया है. निगम पार्षद द्वारा करवाये गये विकास कार्यों का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें  रोहित बताते हैं, कि हमने क्षेत्र में साफ-सफाई पर विशेष जोर देते हुए कई कार्यक्रम चलाए. जिसमें डेंगू मलेरिया से बचने के लिए फॉगिंग करवाना तथा क्षेत्रवासियों को साफ-सफाई के प्रति जागरुक किया जाना शामिल है. यही नहीं सफाई कर्मचारियों का भी हौंसला बढ़ाया ताकि वह पूरी मेहनत और लगन के साथ वार्ड को कूड़ा मुक्त करने में सहयोग प्रदान करें. रोहित बताते हैं, कि ब्लॉक नंबर 12 के महिला पार्क में एक संस्था की मदद से घास-फूस और फूल-पत्तियों के कचरे से वैज्ञानिक तकनीक द्वारा जैविक खाद बनाने की व्यवस्था भी उनकी उपलब्धियों में शुमार है. यह भी पढ़ें : बेहतर शिक्षा व्यवस्था बनाना लक्ष्य, मंगोलपुरी वार्ड 54 में खोलेंगे लाइब्रेरी और एजुकेशन सेन्टर  जिसके लोकार्पण के अवसर पर दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल भी उपस्थित रहे थे. इसके अलावा वार्ड में स्थित पार्कों की साफ- सफाई करवाकर सुंदर बनवाना तथा वृक्षारोपण करवाने का भी काम उन्होंने किया है. क्षेत्र की टूटी हुई सड़कों का निर्माण भी इस बीते समय में हुआ है, हालांकि मुख्य परेशानी निगम पार्षद की बजट न मिलना ही है, जिसके चलते कामकाज बमुश्किल आगे बढ़ पा रहा है. इसके अलावा निगम में व्याप्त भ्रष्टाचार से भी निगम पार्षद आहत हैं. दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार को बेहतर बताते हुए रोहित कहते हैं, कि हालांकि दिल्ली सरकार ने नगर निगम में सत्तासीन भाजपा को लोन भी दिया है, लेकिन भ्रष्टाचार हद से ज्यादा होने की वजह से उन्हें बजट नहीं मिल पा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here