Home Local News कीर्ति नगर लक्कड़मंडी में लगी आग से बीस झुग्गियां खाक, रेलवे पटरी...

कीर्ति नगर लक्कड़मंडी में लगी आग से बीस झुग्गियां खाक, रेलवे पटरी के किनारे अवैध तौर पर संचालित कबाड़ का काम बन रहा है लगातार आगजनी का कारण

49
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 12 जनवरी. मोतीनगर विधानसभा के अंतर्गत आने वाली कीर्ति नगर लक्कड़मंडी में 10 जनवरी, गुरुवार की रात लगी आग से बीस झुग्गियां खाक हो गई, साथ ही तीन इमारतें भी इसकी चपेट में आ गई. इन चारमंजिला बिल्डिंग में लक्कड़ और फर्नीचर बनाने का कारोबार होता है. दिल्ली से जयपुर की और जानेवाली रेलवे लाईन के किनारे पर फैले बुरादे और कबाड़ के ढेर के कारण आग ज्यादा तेजी से फैली. रेलवे पटरी के दोनों ओर कबाड़ के ढेरों और बुरादे में आग फैलने से रेल का परिचालन भी बाधित हुआ. आग इतनी भयंकर थी, कि सर्दी के इस मौसम में भी रात 11 बजे लगी आग पर काबू पाने में दमकलकर्कियों को सुबह के चार बज गये. रात तीन बजे तक ही दमकल विभाग की 20 के करीब पानी की गाड़ियां आ चुकी थीं. कीर्ति नगर थाना पुलिस के साथ-साथ बड़े स्तर के अधिकारी एम्बुलैंस और किसी अनहोनी से निपटने के लिए सारी व्यवस्था के साथ मौजूद थे. यह भी पढ़ें : जीएसटी में दी गई छूट व्यापारियों के प्रति सरकार के नरम रवैय्ये का संकेत, समय से रिफंड मिलना सुनिश्चित करे सरकार मौके पर मौजूद व्यापारी नेता सन्दीप भारद्वाज ने कहा कि रेलवे लाइन के किनारे अभी डेढ़ महीना पहले भी लगातार दूसरे वर्ष आग लगी थी, लेकिन आज भी यहां पर कबाड़ इकठ्ठा करके बेचने का कारोबार बदस्तूर जारी है. यही हाल कीर्ति नगर मेट्रो स्टेशन से शुरू होकर मायापुरी मेट्रो स्टेशन तक जा रही उत्तर रेलवे की पटरी के दोनों ओर का है. संदीप ने कहा कि रेलवे लाइन के दोनों ओर पड़े कबाड़ और ज्वलनशील सामग्री को सख्ती के साथ न हटवाया गया तो भविष्य में कोई बड़ा हादसा हो सकता है. उन्होंने कहा कि समय रहते सरकार की तरफ से विभागीय कार्रवाई की जरूरत है, क्योंकि रेलवे लाईन के किनारे बसी इन झुग्गियों में लगभग 60,000 के करीब आबादी रहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here