Home State News 9 दिसम्बर को रामलीला मैदान में होने वाली विराट धर्मसभा हेतु विहिप...

9 दिसम्बर को रामलीला मैदान में होने वाली विराट धर्मसभा हेतु विहिप ने किया भूमि पूजन

58
0
SHARE
संवाददाता.
नई दिल्ली. 05 दिसम्बर. अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य श्रीराम मंदिर बनाने की पुरजोर मांग को लेकर 9 दिसम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली विशाल धर्मसभा के सभास्थल पर विहिप द्वारा आज 5 दिसम्बर को विधिवत भूमि पूजन किया गया.
सुबह साढ़े दस बजे विहिप द्वारा वैदिक मंत्रों से रामलीला मैदान के सभा स्थल पर पूजन व हवन किया गया. भूमि पूजन के अवसर पर संवाददाताओं को संबोधित करते हुए विहिप के अंतर्राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चम्पत राय ने कहा कि 9 दिसम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में विशाल सम्मेलन होने जा रहा है. यह सम्मेलन अयोध्या में भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य राममंदिर बनाने की मांग को लेकर किया जा रहा है. इस सम्मेलन के द्वारा सरकार से पुरजोर मांग की जायेगी कि श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए सरकार सारी बाधायें दूर करे. सरकार अयोध्या में जन्मस्थान पर भव्य श्रीराम मंदिर बनाने के लिए संसद में कानून प्रस्तुत करे.  यह भी पढ़ें : रविवार को दिल्ली में उमड़ेगा राम भक्तों का जनसैलाब चम्पत राय ने कहा कि समूचे हिंदुस्तान व दुनिया की इस धारणा को तोड़ने के लिए यह सम्मेलन हो रहा है, कि यह विषय निष्प्राण व अप्रसांगिक हो गया है. ऐसे लोगों की भ्रांतियों को दूर करने के लिए यह सम्मेलन किया जा रहा है. समूचे हिंदू समाज की प्राथमिकतायें क्या हैं, इसका दर्शन कराने के लिए यह सम्मेलन हो रहा है. उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढी अपने सांस्कृतिक सम्मान व अपने देश के गौरव से जुडे. जैसे पुरानी पीढियों ने गुलामी से मुक्त पाने के लिए लम्बे समय तक कष्ट सहकर भी इन कलंकों से मुक्ति पायी. आक्रमण काल के कलंक जो हिंदुस्तान में मौजूद हैं, एक-एक कर उनको समाप्त करने के लिए सांस्कृतिक आजादी की लडाई छेड़ी हुई है.
देश को सांस्कृतिक गुलामी से मुक्ति के लिए वर्तमान पीढ़ी ने दिल्ली के इंडिया गेट चौक से जार्ज पंचम की मूर्ति हटायी. जहां-जहां विक्टोरिया की मूर्ति थी वे सभी हटायी गर्इं. सोमनाथ के मंदिर का पुनर्निर्माण कराया गया. पार्कों, अस्पतालों, सड़कों व शहरों के नाम बदले गये. यह अभियान पीढ़ी दर पीढ़ी जारी है. वर्तमान पीढ़ी अपने आर्थिक उत्थान के लिए प्रयासरत है, वहीं उतना ही दर्द देश व समाज के लिए आज की पीढ़ी में भी है, यह दिखाने के लिए यह सभा हो रही है. राय ने कहा कि आज की पीढ़ी उतनी ही नहीं, अपितु उससे अधिक जागरूक व संवेदनशील है. यह विषय हिंन्दुस्तान की प्राथमिकता का विषय है. इन तीनों का उत्तर यह समाज 9 तारीख को संसार को देने वाला है.
भूमि पूजन के अवसर पर राघवानन्द महाराज, महन्त नवल किशोर, महन्त अनुभूतानन्द महाराज, संघ के सहसरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल, दिनेश चंद्र , कुलभूषण समेत तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here